सूबे में खुला 32वां सिपेट, 1500 छात्रों को मिलेगा प्रवेश

केंद्रीय मंत्री और सीएम ने किया सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ प्लास्टिक इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी का उद्घाटन

csts-उत्तराखंड में देश का 32वां सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ प्लास्टिक इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (सिपेट) अस्तित्व में आ गया है। केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री अनंत कुमार ने संस्थान का उद्घाटन करते हुए कहा कि भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) के समकक्ष यह संस्थान प्रदेश के युवाओं के लिए उच्च तकनीकी शिक्षा की दिशा में महत्वपूर्ण कदम साबित होगा। उन्होंने कहा कि इस सत्र में सिपेट के विभिन्न पाठ्यक्रम में 1500 छात्रों को प्रवेश दिया जाएगा। दूसरे वर्ष में यहां सीटों की संख्या बढ़ाकर दो हजार और तीसरे वर्ष में तीन हजार की जाएगी। इनमें 85 फीसद सीटों पर प्रदेश के युवाओं को प्राथमिकता दी जाएगी। इस दौरान उन्होंने एलान किया कि कळ्माऊं मंडल में भी जल्द सिपेट खोला जाएगा।

सितारगंज में प्लास्टिक टेक्नोलॉजी पार्क के लिए 40 करोड़

1 रसायन एवं उर्वरक मंत्री अनंत कुमार ने सितारगंज में प्लास्टिक टेक्नोलॉजी पार्क के लिए 40 करोड़ रुपये देने की घोषणा करते हुए कहा कि इसके लिए राज्य ने 50 एकड़ भूमि उपलब्ध करा दी है। कहा कि यह प्लास्टिक पार्क खास तौर पर मेडिकल से जुड़े उत्पादों के निर्माण में भागीदार बनेगा। इसमें सीरिंज जैसे उपकरण तैयार किये जाएंगे। पार्क के निर्माण से जहां पांच हजार लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार भी इस परियोजना को अपने मिशन 20-20 में शामिल किया है।

मंगलवार को केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने देहरादून से 18 किलोमीटर दूर डोईवाला के पुराने आइटीआइ परिसर में 51 करोड़ की लागत से तैयार सिपेट और कौशल विकास एवं तकनीकी सहयोग केंद्र (सीएसटीएस) का उद्घाटन किया। इस दौरान संस्थान के नए भवन का शिलान्यास भी किया गया। इस दौरान अनंत कुमार ने कहा कि वर्ष 2014 तक पूरे देश में 23 सिपेट थे,

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों से हम 32वें सिपेट का उद्घाटन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में अगरतल्ला व महाराष्ट्र के चंद्रापुर में एक-एक सिपेट की स्थापना का काम जारी है और सात की तैयारी की जा रही है। कहा कि वर्तमान में प्लास्टिक टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में हर साल आठ लाख युवाओं की जरूरत है, जबकि भारत महज अस्सी हजार युवा ही तैयार कर पा रहा है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि उत्तराखंड के लिए सिपेट खास सौगात है। कहा कि उत्तराखंड के युवा मेहनतकश और रचनात्मक हैं, संस्थान युवाओं के लिए निकट भविष्य में महत्वपूर्ण साबित होंगे। इस अवसर पर हरिद्वार के सांसद डा. रमेश पोखरियाल निशंक, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, प्रदेश के उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, विधायक हरबंस कपूर, केंद्रीय सचिव पी. राघवेंद्र राव, प्रदेश के मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह आदि उपस्थित थे।

You Might Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>